SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

अगर आप SSC CHSL की तैयारी करना चाहते है, और SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ? इन सवालो लेकर परेशान और कन्फ्यूज्ड हो तो हमारे इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े। इस आर्टिकल में हमने SSC CHSL क्या है ? SSC CHSL का फुल फॉर्म,  SSC CHSL के लिए Eligibility CriteriaSSC CHSL एग्जाम की एटेम्पट  सीमा, SSC CHSL का एग्जाम किनके लिए आवयश्क है, SSC CHSL क्यों जरुरी है, SSC CHSL और SSC CGL में अंतर, SSC CHSL की Post और Salary, SSC CGL Exam का Syllabus और SSC CHSL का Exam Pattern को विस्तार से वर्णन किया है, तो आइये जानते है SSC CHSL के बारे में।

आपने हमारी पिछली आर्टिकल में SSC क्या है ? SSC की तैयारी कैसे करे ? इस बारे में जाना था।  आज हम एसएससी में कौन कौन से एग्जाम आते है , इस बारे में विस्तार में जानकारी प्राप्त करेंगे। एसएससी के अंडर काफी सारे Exams आते है जैसे- SSC CGL, SSC CHSL , SSC JE , Stenographer , CAPF , SSC GD Constable , SSC Multitasking , SAP , CPO, JHT. एसएससी के सारे अलग अलग होते है और इनकी पोस्ट भी अलग अलग होती है। SSC CGL से सम्बन्धित जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी पिछले आर्टिकल SSC CGL क्या है ? SSC CGL Exam Pattern and Syllabus , को पढ़ सकते है। 

SSC CHSL क्या है ?  

CHSL के बारे में जानने से पहले SSC क्या है इस बारे जानेंगे।  SSC का फुल फॉर्म :- Staff Selection Commission होता है। SSC एक ऐसी संस्था है , जो कि भारत में विभिन्न विभिन्न प्रकार के डिपार्टमेंट के लिए कर्मचारियों का चयन करती है , अथवा चुनाव करती है यह एग्जाम केंद्र सरकार द्वारा करवाया जाता है। सरल शब्दों में हम कह सकते है की यह केंद्र  सरकार की ही एक संस्था है। अगर आप विस्तार में एसएससी क्या है ? इस विषय में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो  हमारे इस SSC क्या है ? SSC की तैयारी कैसे करे ?आर्टिकल को जरूर पढ़े । SSC CHSL परीक्षा होती है जिसे पास करके आप सरकारी नौकरी पा सकते है लेकिन इसके लिए आपको काफी तैयारी करनी होती है , क्योंकि इस जॉब का क्रेज इतना ज्यादा है कि इस जॉब को पाने लिए हर साल लाखो स्टूडेंट्स इसका पेपर देते है। यह संख्या हर साल बहुत तेज़ी से बढ़ती जा रही है। किंतु इस एग्जाम को पास करने के लिए काफी परिश्रम और proper तैयारी की जरूरत है।

SSC CHSL का फुल फॉर्म :

 SSC CHSL का फुल फॉर्म : Combined Higher Secondary Level होता है। इसका हिंदी में मतलब संयुक्त उच्चतर माध्यमिक स्तर है। SSC CHSL की परीक्षा हर साल लोअर डिविज़न क्लर्क (LDC),डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO) और पोस्टल असिस्टेंट पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती के लिए आयोजित किया जाता है। 

SSC CHSL के लिए Eligibility Criteria  :

SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL की परीक्षा देने के लिए हमे के बातों  का ध्यान रखना पड़ता है क्योंकि हम सभी जरुरी बातों को ध्यान में रखकर ही हम आवेदन पत्र भर  सकते है।  किन्तु अगर हम इन खास बातों  को ध्यान में नहीं रखते है तो हम एग्जाम नहीं दे सकते है। ये आवेदन कुछ इस प्रकार से है :-

  • आवेदक का एक  भारतीय नागरिक होना आवश्यक है।
  • उम्र 18 साल से लेकर 27 साल तक होनी चाहिए। किन्तु उम्र सीमा केटेगरी के हिसाब से उम्र की सीमा को कुछ हद तक बढ़ाया और घटाया जा सकता है। अगर आप OBC केटेगरी से सम्बन्ध रखते है तो आपको ऊपरी उम्र सीमा में 3 वर्ष और SC/ST छात्रों को ऊपरी उम्र सीमा में 5 वर्ष की  छूट मिलती है।  शारीरिक रूप से विकलांग (PH) छात्रों के लिए ऊपरी सीमा  छूट 10 वर्षो तक की होती है। 
  • SSC CHSL की परीक्षा देने के लिए आवेदक का किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड या विश्वविद्यालय से पास किया होना चाहिए। इस प्रकार आप इन मूलभूत का पालन करने के बाद SSC CHSL का एग्जाम दे सकते है।

SSC CHSL एग्जाम की एटेम्पट  सीमा:

SSC CHSL एग्जाम में शामिल होने के प्रयासों की कोई सीमा नहीं है।  आज जितनी बार चाहे एग्जाम में बैठ सकते है। बस सर्त सिर्फ इतनी है की आप SSC CHSL के एग्जाम के सभी सर्तो जैसे की Age लिमिट,एग्जाम क्वालिफिकेशन इत्यादि इन सभी बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। अन्यथा आप जब तक चाहे एग्जाम दे सकते है। 

SSC CHSL का एग्जाम किनके लिए आवयश्क है :

SSC CHSL  के नाम से ही आपको अंदाजा हो गया होगा की यह एग्जाम किनके लिए जरूरी है।  यह एग्जाम उन सभी स्टूडेंट्स के लिए जरूरी है जो पढ़ाई कर रहे है या कर चुके है और जो की सरकारी नौकरी पाना चाहते है।  सरल शब्दों में कहे तो यह एग्जाम उन सभी के जरूरी है जिन्होंने बाहरवीं पास कर ली है ।  इस एग्जाम के द्वारा आप केंद्र सरकार से जुड़े किसी विभाग में जॉब प्राप्त सकते है। 

SSC CHSL क्यों जरुरी है :

SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL एग्जाम के जरिये विभिन्न केंद्रीय सरकर के विभिन्न डिपार्टमेंट के लिए ग्रुप-सी के कर्मचारियों का चयन किया जाता है। 

SSC CHSL और SSC CGL में अंतर :

SSC CHSLएग्जाम बारहवीं पास के लिए होता है वही SSC CGL ग्रेजुएशन लेवल के लिए होता है। SSC CHSL की परीक्षा के उम्मीदवार CGL के मुकाबले ज्यादा होते है क्योंकि यह परीक्षा  12th बेसिस पर होती है। SSC CGL की परीक्षा देने में बाद स्टूडेंट्स SSC CHSL का एग्जाम भी दे सकते है।किन्तु इनकी उम्र सीमा भी अलग अलग है। साथ ही साथ इनके पोस्ट और सैलरी भी अलग अलग है। SSC CGL और SSC CHSL दोनों Tier-1का एग्जाम पैटर्न एक जैसा ही होता है। परन्तु SSC CGL और SSC CHSL  के बाकी के  tier अलग अलग होते है।   ऐसा नहीं है की SSC CHSL के लिए काम पढ़ना पड़ता और SSCCGL के लिए ज्यादा पढ़ना पड़ता है। दोनों एग्जाम को पास करने के लिए मेहनत और परिश्रम की जरूरत प्रति है। दोनों एग्जाम का लेवल भी काफी हद तक एक समान होता है। 

SSC CHSL की Post और Salary :

SSC CHSL की परीक्षा का आयोजन निम्नलिखित पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती के लिए किया जाता है :

  • लोअर डिवीज़न क्लर्क (LDC)
  • डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO)
  • कोर्ट क्लर्क (CC)
  • पोस्टल असिस्टेंट /सॉर्टिंग असिस्टेंट (PA/SA)

SALARY :

निम्न SSC CHSL पदों का वार्षिक पैकेज है इसमें भत्ते और अन्य लाभ भी शामिल है। 

पोस्ट के नाम इन-हैंड सैलरी 
लोअर डिवीज़न क्लर्क (LDC)2,00,000 – 2,40,000 
डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO)3,00,000 – 3,60,000 
कोर्ट क्लर्क (CC)2,10,000 -2,50,000 
पोस्टल असिस्टेंट /सॉर्टिंग असिस्टेंट (PA/SA)3,00,000 – 3,60,000 
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL का मासिक वेतन :

SSC CHSL का मासिक वेतन निम्न अनुसार है।  

पोस्ट के नामइन-हैंड सैलरी 
लोअर डिवीज़न क्लर्क (LDC)18,777 – 22,411 
डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO)25,165 -31,045  
कोर्ट क्लर्क (CC)18,777 -22,411 
पोस्टल असिस्टेंट /सॉर्टिंग असिस्टेंट (PA/SA)25,165 – 31,045 
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL  Exam Application Form Fee :

SSC CHSL की परीक्षा में आवेदन करने के लिए आपको केवल 100 रुपए का आवेदन शुल्क भुगतान राशि  है। महिलाओ /SC /ST और शारीरिक रूप से विकलांग के लिए कोई शुल्क राशि नहीं लगती है।

SSC CGL Exam का Syllabus

SSC CGL Exam के Syllabus को तीन भागों में बॉंटा गया है जिन्हे निचे बिस्तार से बताया गया है।

Tier-1 के लिए:

  • General Intelligence & Reasoning
  • Quantitative Aptitude
  • General Awareness
  • English Language & Comprehension.

General Intelligence & Reasoning: 

  • Analogies
  • Similarities And Differences
  • Space Visualization
  • Spatial Orientation
  • Problem Solving
  • Analysis
  • Judgment
  • Decision Making
  • Visual Memory
  • Discrimination
  • Observation
  • Relationship Concepts
  • Arithmetical Reasoning And Figural Classification
  • Arithmetic Number Series
  • Non-Verbal Series
  • Coding And Decoding
  • Statement Conclusion
  • Syllogistic Reasoning, Semantic  Analogy
  • Symbolic/Number Analogy
  • Figural Analogy
  • Semantic Classification
  • Figural Classification
  • Semantic Series
  • Number Series
  • Figural Series
  • Wordbuilding
  • Coding & Decoding
  • Trends
  • Numerical Operations
  • Symbolic Operations
  • Space Orientation
  • Venn Diagrams
  • Drawing Inferences
  • Indexing
  • Figural Pattern
  • Address Matching
  • Date & City Matching
  • Classification Of Centre Codes
  • Embedded Figures
  • Critical Thinking
  • Punched Hole/ Pattern Folding & Unfolding
  • Emotional Intelligence
  • Social Intelligence

Quantitative Aptitude :

  • Computation Of Whole Numbers
  • Decimals
  • Fractions And Relationships Between Numbers
  • Percentage, Ratio & Proportion
  • Square Roots
  • Averages
  • Interest
  • Profit And Loss
  • Discount
  • Partnership Business
  • Mixture And Alligation
  • Time And Distance
  • Time & Work
  • Basic Algebraic Identities Of School Algebra & Elementary Surds
  • Graphs Of Linear Equations
  • Triangle And Its Various Kinds Of Centres
  • Congruence And Similarity Of Triangles
  • Circle And Its Chords
  • Tangents
  • Quadrilaterals
  • Regular Polygons
  • Circle
  • Right Prism
  • Right Circular Cone
  • Right Circular Cylinder
  • Sphere
  • Hemispheres
  • Rectangular Parallelepiped
  • Regular Right Pyramid With Triangular Or Square Base
  • Trigonometric Ratio
  • Degree And Radian Measures
  • Standard Identities
  • Complementary Angles
  • Heights And Distances
  • Histogram
  • Frequency Polygon
  • Bar Diagram & Pie Chart

General Awareness :

  • Static General Knowledge( Indian History, Culture, Etc)
  • Science
  • Current Affairs
  • Sports
  • Books And Authors
  • Important Schemes
  • Portfolios
  • People In The News
  • Computer
  • Awards And Their Importance
  • Geography
  • Economy
  • Polity
  • Population Census

English Language & Comprehension :

  • Reading Comprehension
  • Fill In The Blanks
  • Spellings
  • Phrases And Idioms
  • One Word Substitution
  • Sentence Correction
  • Error Spotting
  • Synonyms
  • Antonyms
  • Idioms & Phrases.

SSC CHSL Tier-2 का syllabus :

SSC CHSL का एग्जाम में  essay writing और letters /application, 200-250 और 150 से 200 शब्दों में करना होता है। इसके लिए कुछ सामन्य विषय दिए जाते है जिसके आधार पर ही एग्जाम किया जाता है। 

  • Politics 
  • Social Issues 
  • Technology 
  • Finance and Economy 
  • Sports 
  • Environment

SSC CHSL Tier-3 का Syllabus :

SSC CHSL Tier-3  एग्जाम मूल रूप से कंप्यूटर कौशल परीक्षण है, जिसमे दो तरह के परीक्षण शामिल है।

  • Data Entry Skill Test (DEST)
  • Typing Test (TT)

SSC CHSL का   Exam Pattern  क्या है?

Ssc CHSL  Tier -1 एग्जाम ऑनलाइन करवाए जाती है। जिसमे चार भाग होते है और यह कुल मिलकर लगभग 100 प्रश्न होते है। हर प्रश्न में आपको चार विकल्प दिए जायेगे। जिस मे से आपको केवल आपको एक ही विकल्प चुनना होगा। आपके द्वारा दिए गए गलत उत्तर के लिए आपके 0.5 अंक काट दिए जायेगे। जिसे नेगिटिव मार्किग भी कहा जाता है। आपके लिए Tier-1 की समय सीमा अधिकतम 60 मिनट की होती है। किन्तु शारीरिक रूप से विकलांग स्टूडेंट्स के लिए 80 मिनट दिए जाते है।SSC CHSL और SSC CGL का टियर-1 का एग्जाम पैटर्न बिलकुल एक समान्य होता है।

Tier -1 Exam Pattern :

SUBJECTSNumbers Of QuestionsMarks Time
AGeneral Intelligence And Reasoning2550 
BQuantitative Aptitude2550 
CGeneral Awareness255060 Minutes
DEnglish Comprehension2550 
 Total100200With Neg.Marking 
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL Tier-2 का Exam Pattern :

SSC CHSL का एग्जाम में  essay writing और letters /application, 200-250 और 150 से 200 शब्दों में करना होता है। इसके लिए कुछ सामन्य विषय दिए जाते है जिसके आधार पर ही एग्जाम लिया जाता है। 

  • Politics 
  • Social Issues 
  • Technology 
  • Finance and Economy 
  • Sports 
  • Environment 
SSC CHSL Tier-2Word Limit Total Marks 
Essay 200-250 100 
Letter/Application 150-200 
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL Tier -3 Exam Pattern :

इस टियर-3 का एग्जाम Skills/typing test के बेसिस पर होता है। 

SSC CHSL Tier-3 पोस्ट SSC CHSL Tier-3 Tests 
Data Entry Operator (DEO)Skill Test 
Lower Divisional Clerk (LDC)/Junior Secretariat Assistant (JSA)/Postal Assistant(PA)/Sorting Assistant (SA)

Typing Test 
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?

SSC CHSL टियर-3 के अंडर आने वाले पोस्ट्स निम्नलिखित अनुसार है :

  • Lower Divisional Clerk (LDC)
  • Junior Secretariat Assistant (JSA)
  • Postal Assistant(PA)
  • Sorting Assistant (SA)

इन टाइपिंग टेस्ट के आधार पर आपकी पोस्टिंग होती है।

Conclusion :

हमें उम्मीद है की आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ? और इसके Syllabus संबंधित और इससे जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त हो गयी होंगी। हमारे आर्टिकल का उद्देश्य ही आपको सरल से सरल शब्दों में जानकारी प्रदान करवाना होता है , किन्तु अगर आपको मन में कोई सवाल है , तो आप हमे comments के जरिए बता सकते है। हम आपके सभी सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे। 
Source: Ssc.Nic.In
Read Also: Email Id Kya Hai और Email ID Kaise Banaye?
 राज्यपाल क्या होता है? और राज्यपाल की भूमिका क्या है?
SSC CGL Kya Hai? SSC CGL Exam Pattern And Syllabus In Hindi
SSC क्या है ? SSC की तैयारी कैसे करे ?

Leave a Comment