Nursing me career kaise banaye?(नर्सिंग में करियर कैसे बनाए?)

Nursing me career kaise banaye?

हमारे मुश्किल समय में डॉक्टर्स और नर्स की भूमिका अहम् मानी जाती है, क्योकि आज कल जिस तरह से हमारा समाज तरक्की की ओर बढ़ रहा है उसी तरह से समाज में रहने वाले व्यक्तियों का उनके स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही सीधे तोर पर देखने को मिलती है।

जिस कारणवश वे घातक बीमारियों का शिकार होते है, जिसके परिणामस्वरूप आज अस्पतालों में मरीजों की संख्या दिन-प्रति -दिन बढ़ती ही जा रही है। जिसके कारण आज हमारे समाज में स्वास्थकर्मियों की कमी होती जा रही है।

एक अध्यन के अनुसार भारत में 1000 मरीजों के लिए सिर्फ 1.7 नर्स ही मौजूद है। इससे आपको नर्सो की संख्या का पता बखूबी लग गया होगा।

नर्सों की संख्या में होने वाली कमी के कारण हाल के दिनों में तथा आने वाले समय में नर्सिंग ही सबसे अच्छा और बेहतरीन करियर साबित होने वाला है। नर्सिंग से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करवाने में आपके लिए हमारा यह आर्टिकल बहुत ही उपयोगी और लाभदायक सिद्ध होगा। तो आइये हम हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से Nurse ka course kaise kare इसके बारे में जानते है।

नर्सिंग क्या है!

नर्सिंग क्या है!(Nursing me career kaise banaye)

नर्सिंग पैरामेडिकल का हेल्थकेयर इंडस्ट्री से जुड़ा प्रोफेशन है। जो स्टूडेंट नर्सिंग को आपना प्रोफेशन बनाना चाहते है वह नर्सिंग के कोर्स करके नर्सिंग में अपना करियर बना सकते है।

अगर हम नर्सिंग की बात करे तो नर्सिंग के अंतर्गत ANM, GNM और B.Sc नर्सिंग जैसे कोर्स आते है। नर्सिंग को छात्र और छात्राए दोनों ही कर सकते है, ऐसा नहीं है कि इसको सिर्फ छात्राए ही कर सकते है।

केवल ANM ही ऐसी स्ट्रीम है जिसको महिला कैंडिडेट ही कर सकती है।

Nursing me career kaise banaye / Nurse का कोर्स कैसे करे :-

अगर आप अपना करियर नर्सिंग में बनाना चाहते है, तो आप ANM, GNM और B.Sc नर्सिंग आदि कोर्स कर सकते है और आपने करियर बना सकते है।

किन्तु इन कोर्सो को करने के बाद आपको किसी अस्पताल में इंटर्नशिप करने पड़ती है। इंटर्नशिप कुछ महीनों की होती है, जहां पर आपको Nursing का प्रैक्टिकल ज्ञान मिलता है।

इंटर्नशिप को पूरा करने के बाद आप किसी भी अस्पताल में, क्लिनिक, नर्सिंग होम में नौकरी की खोज कर सकते है। वही अगर हम प्लेसमेंट की बात करे तो वह भी अच्छे संस्थानों में कैंपस प्लेसमेंट के द्वारा भी सलरता से नौकरी मिल जाती है।

Nurse Course

नर्सिंग के अंतर्गत तीन कोर्स आते है, जो कि निम्न अनुसार है:-

ANM (Auxiliary Nurse Midwife/Health Worker)

GNM (General Nursing and Midwifery)

B.Sc Nursing

इन अग्र लिखित Nursing Course का information आप हमारे इस आर्टिकल के जरिए प्राप्त कर सकते है। इन कोर्सो के बारे में हमने विस्तार में वर्णन निचे लिखित अनुसार किया है, तो आइये हम इन कोर्सो के बारे जल्दी से जानकारी प्राप्त करते है :-

ANM kya hai? (Auxiliary Nurse Midwife/Health Worker)

ANM नर्सिंग एक डिप्लोमा कोर्स होता है। ANM चिकित्सा विज्ञानं का एक महत्वपूर्ण कोर्स है। ANM ही ऐसी स्ट्रीम है जिसको महिला कैंडिडेट ही कर सकती है।

ANM का फुल फॉर्म -Auxiliary Nurse Midwife/Health Worker है। ANM (Auxiliary Nurse Midwife/Health Worker) दो साल का डिप्लोमा कोर्स है यानि की इस कोर्स की समय अवधि दो साल है।

ANM kya hai?
ANM kya hai? (Nursing me career kaise banaye)

इस कोर्स को करने के लिए बाहरवीं पास होना आवश्यक है, बाहरवीं आप किसी भी विषय से कर सकते है, किन्तु आपके पास अंग्रेजी विषय होना बहुत आवश्यक है।

इस कोर्स के अंतर्गत आपको ह्यूमन एनाटॉमी, बायोलॉजी, मिक्रोबॉयोलॉजी, बायोलॉजिकल साइंस, समाजशास्त्र, व्यवहार विज्ञान , मनोविज्ञान, नर्सिंग के बुनियादी सिद्धांत आदि के बारे में जानकारी दी जाती है।

GNM kya hai? (General Nursing and Midwifery)

GNM भी एक डिप्लोमा कोर्स है। अगर हम GNM नर्सिंग कोर्स की बात करे तो इसको पुरष और स्त्री दोनों कैंडिडेट कर सकते है। GNM का फुल फॉर्म – General Nursing and Midwifery. GNM तीन साल छः महीने का कोर्स होता है।

GNM kya hai? (Nursing me career kaise banaye? )
GNM kya hai? (Nursing me career kaise banaye? )

छः महीने की इंटरशिप होती है जो कि आपको नर्सिंग के बारे सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करवा देता है। यह कोर्स आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्था से दसवीं और बारहवीं पास करने के बाद कर सकते है। GNM को आर्ट्स और कॉमर्स के छात्र भी कर सकते है।

B.Sc Nursing kya hai?

B.Sc का फुल फॉर्म – Bachelor of Science in Nursing है। यह अंडर ग्रेजुएट नर्सिंग कोर्स है। B.Sc की अवधि कुल चार वर्ष की होती है। इसके बाद इंटर्नशिप भी होती है।

B.Sc Nursing kya hai
B.Sc Nursing kya hai? ( Nursing me career kaise banaye? )

B.Sc Nursing करने के लिए आपको कम से कम बाहरवीं पास करना आवश्यक है। बाहरवीं आपको साइंस विषय से पास करना बहुत ही जरुरी है। B.Sc Nursing को पुरष और महिला कैंडिडेट दोनों ही कर सकते है। B.Sc Nursing ke baad kya kare यह प्रश्न सबके मन में होता है, आप B.Sc Nursing के बाद M.Sc Nursing कर सकते है।

Best Nursing College in India with fee

College NameCity NameCourseFirst year’s Fee
All India Institute of Medical Science-[AIIMS]New Delhi, Delhi NCRNursingRs.1,685/-
Post Graduate Institute of Medical Education & Research-[PGIMER]Chandigarh NursingRs.6,035/-
Armed Forces Medical College-[AFMC]Pune, Maharashtra NursingRs.1,000/-
Kasturba Medical College-[KMC]Mangalore, Karnataka NursingRs.1,75,000/-
Christian Medical College-[CMC]Vellore, Tamil NaduNursingRs.23,280/-
Banaras Hindu University-[BHU]Varanasi, Uttar PradeshNursingRs.3,385/-
Lady Hardinge Medical College-[LHMC]New Delhi. Delhi NCRNursingRs.7,360/-
Jawaharlal Institute of Post Graduate Medical Education and Research-[JIPMER]Pondicherry, PuducherryNursingRs.7,760/-
Madras Medical College-[MMC]Chennai, Tamil NaduNursingAround Rs.10,000/-
Manipal Academy of Higher Education-[MAHE]Manipal, KarnatakaNursingRs. 1,75,000/-
Jamia Hamdard UniversityNew Delhi, Delhi NCRNursingRs. 1,45,000/-
Guru Gobind Singh Indraprastha University-[GGSIPU]New Delhi, Delhi NCR NursingRs. 27,000/-
King George’s Medical University-[KGMU]Lucknow, Uttar Pradesh NursingRs. 35,000/-
Sri Ramachandra Institute of Higher Education and ResearchChennai, Tamil Nadu NursingRs. 1,oooo0/-
Annamalai University-[AU]Chidambaram, Tamil NaduNursingRs. 56,000/-
DY Patil UniversityNavi Mumbai, Maharashtra NursingRs. 1,12,000/-
Government Medical College-[GMC]Amritsar, PunjabNursingRs. 80,000/-
JKK Natrajah Dental College & HospitalNamakkal, Tamil NaduNursingRs. 4,00,000/-
Christian Medical College-[CMC]Ludhiana, PunjabNursingRs.1,47,800/-

Nurse के कार्य :

अगर हम स्किल्स या कौशल की बात करे तो हर असम्भव कार्य को सम्भव बनाने के लिए मेहनत और लगन होनी आवश्यक है अगर किसी इंसान के भीतर ये भावना नहीं है तो वह कोई भी कार्य नहीं कर सकता है।

किन्तु नर्सिंग एक ऐसा प्रोफेशन है, जिसमे मनुष्य को कई सारी जरुरी बातों का ध्यान रखना पड़ता है। नर्सिंग करने के लिए आपके अंदर सेवा करने की भावना का होना बहुत ही आवयश्क है, क्योकि हम सभी जानते है कि नर्स का कार्य बहुत ही कठिन होता है। उन्हें दिन रात किसी भी शिफ्ट में कार्य करना पड़ सकता है।

एक कुशल नर्स के अंदर आपने कार्य के प्रति सदभावना के साथ साथ मरीजों में आत्मविश्वास को उजागर करने की भी क्षमता होनी चाहिए।

उन्हें मेडिकल उपकरण के इस्तेमाल से लेकर उनके रख-रखाव और दवाओ की भी सम्पूर्ण जानकारी होनी जरुरी है। अगर हम सरल भाषा में कहे तो नर्स के कार्य को विभन्न-विभन्न भागों में विभाजित किया जाता है।

जैसे कि जनरल नर्स क्लिनिक, अस्पताल, नर्सिंग होम में जनरल कार्य करने वाले नर्स को जनरल नर्स की श्रेणी में शामिल किया जाता है। इनके मुख्य रूप से कार्य डॉक्टर्स की उनके कार्य में सहायता करना होता है। मरीजों की देखभाल करना।

डॉक्टर्स की सलाह अनुसार मरीजों को समय अनुसार दवा देना, उनका BP चेक करना, उनकी सहायता करना आदि कार्य एक जनरल नर्स के सबसे महत्वपूर्ण कार्य होते है।

जो नर्स गर्भवती महिलाओं की देख-रेख और देखभाल करती है और प्रसव के दौरान उनकी सहायता करती है उन नर्सो को मिडवाइफ की श्रेणी में रखा जाता है।

अगर आप चाहें तो नर्सिंग में अन्य क्षेत्रों में महारथ हाशिल करके किसी भी क्षेत्र में विशेषता प्राप्त कर सकते है। जैसे कि :-

मिड वाइफरी प्रैकिटशनर मनोरोग परिचर्य (साइकेट्रिक नर्स), ओप्रेशन-रूम नर्सिंग, विकलांग चिकित्सा नर्सिंग, क्रिटिकल-केयर नर्सिंग,इमरजेंसी एंव डिजास्टर नर्सिंग,

नर्सिंग शिक्षा एवं प्रशासन, मस्तिष्क-संबंधी रोगों में परिचर्या (न्यूरो नर्सिंग), नए-जन्मे बच्चे की परिचर्या (नियो-नेटल नर्सिंग), कर्क-रोग संबंधी नर्सिंग (ऑनकोलोजी नर्सिंग)

ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सकीय सेवा उपलब्ध करने वाले नर्सिंग से जुड़े लोग हेल्थ वर्कर कहलाते है।

नर्सिंग कोर्स करने के बाद जॉब और सैलरी :-

नर्सिंग कोर्स के माध्यम से आप प्राइवेट और सरकारी दोनों कार्य क्षेत्रों पर जॉब करने का अवसर प्राप्त कर सकते है। इसके अलावा नर्सिंग की कई तरह वैकेंसी निकलती रहती है, जिन में आप अप्लाई कर सकते है और लाभ उठा सकते है।

आप रेलवे,आर्मी, कम्युनिटी हेल्थ वर्कर, नेशनल रूरल मिशन आदि सरकारी क्षेत्रों में जॉब प्राप्त कर सकते है।

इनके अलावा आप प्राइवेट क्षेत्रों में भी जॉब प्राप्त कर सकते है। जैसे प्राइवेट अस्पताल, क्लिनिक, नर्सिंग होम में भी जॉब कर सकते है। हेल्थ डिपार्टमेंट, पुनवार्स ग्रहों, काउंसिलिंग सेंटर, इंडस्ट्रियल हाउसेज, स्कूल हेल्थ केयर आदि के क्षेत्रों में आपको जॉब के कई सारे मौके प्राप्त होते है।

आप B.Sc नर्सिंग के बाद M.Sc नर्सिंग करने के बाद टीचिंग के क्षेत्र में भी जॉब हासिल कर सकते है। नर्सिंग कोर्स के अंतर्गत डाइटेटिक्स, कार्डियोलॉजिस्ट, पीडियाट्रिक्स, ऑप्थेल्मोलॉजी, आथरेपेडिक्स आदि विभिन्न- विभिन्न क्षेत्रों में से किसी भी क्षेत्र में विशेषता प्राप्त कर सकते है।

एमएससी करने के बाद आप एमफिल और पीएचडी भी कर सकते है।

आप चाहे तो विदेश में भी जॉब प्राप्त कर सकते है। इसके लिए आप कमिशन ऑफ़ ग्रेजुएशन ऑफ़ फॉरेन नर्सिंग स्कूल (सीजेएफएनएस) तथा टेस्ट ऑफ इंग्लिश इज ए फॉरेन लैंग्वेज (टफेल) परीक्षा को उत्तीर्ण करना पड़ेगा।

किन्तु अगर आप अमेरिका में नर्सिंग सेक्टर में जॉब करना चाहते है, तो आपको CGFNS परीक्षा पास करना आवश्यक होता है। वही अगर में हम विदेश में मिलने वाली सैलरी की बात करे, तकरीबन 1 लाख रूपये प्रतिमाह या इससे भी ज्यादा रूपये मिल सकते है।

वही अगर हम भारत में सैलरी की बात करे तो आपको शुरआत में सैलरी 8 से 12 हजार रूपये प्रति माह प्राप्त होगा। अनुभव हासिल होने के बाद आपकी सैलरी में भी इज़ाफा किया जाता है।


Read Also:
राज्य विधान सभा क्या है? और विधान सभा की शक्तियाँ एवं कार्य क्या है?
Email Id Kya Hai और Email ID Kaise Banaye?
राज्यपाल क्या होता है? और राज्यपाल की भूमिका क्या है?
SSC CGL Kya Hai? SSC CGL Exam Pattern And Syllabus In Hindi
SSC क्या है ? SSC की तैयारी कैसे करे ?
SSC CHSL क्या है ? और SSC CHSL का Exam Pattern क्या है ?
Yoga Therapy Kya Hai ?? Yoga Therapy Me Career Kaise Banaye?विधान परिषद और विधान सभा के बीच का आपसी संबंध क्या है?विधान परिषद क्या है? और विधान परिषद के कार्य एवं शक्तियां क्या है?
मंत्री परिषद का निर्माण एवं मंत्री परिषद की शक्तियां और कार्य
SSC Stenographer क्या है ? SSC Stenographer की तैयारी कैसे करे ?
SSC SAP Kya Hai? SSC SAP Exam Pattern And Syllabus
भारत की चुनाव प्रणाली और चुनावों की ख़ामियाँ और सुझाव
SSC MTS Kya Hai? SSC MTS का Syllabus और SSC MTS का Exam Pattern क्या है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *