LLB में करियर कैसे बनाए?

अगर हम बात करे हमारे करियर की तो बाहरवीं के बाद करियर को लेकर हमारे मन में ना जाने कितने सारे प्रश्न उत्पन्न होते है। आज के इस आधुनिक युग में करियर का सही चयन करना बहुत ही अनिवार्य हो गया है। अगर आप आपने जीवन को एक बेहतरीन मुक़ाम तक ले कर जाना चाहते है यानि सफलता को छूना चाहते है तो आप लॉ के क्षेत्र में अपने करियर की नींव को रख सकते है।

जहाँ तक लॉ की बात करे तो आज के इस आधुनिक युग में लॉ का बहुत स्कोप है। हालांकि इस बात में कोई शक नहीं है की लॉ की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप प्राइवेट और गवर्नमेंट दोनों क्षेत्रों में कार्य कर सकते है।

अगर आप ने ग्रेजुएशन पास की  है तो भी आप यह कोर्स कर सकते है, कहने का भाव यह है कि आप बाहरवीं पास है या ग्रेजुएट है आप लॉ कर सकते है। चाहे आपने 12 किसी  भी स्ट्रीम से की हो, चाहे आर्ट्स हो या साइंस या कॉमर्स या फिर एग्रीकल्चर हर स्ट्रीम के स्टूडेंट्स लॉ में करियर बना सकते है। किन्तु इसके लिए हमारा कुछ बातो से अवगत होना बहुत ही आवश्यक है। 

जो कि आज हम हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से जानेगे की LLB में करियर कैसे बनाए ?इस से पहले हम LLB के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी हासिल कर लेते है। 

LLB क्या है ?

LLB एक ऐसा कोर्स है जिसे पूरा करने के बाद आप वकील बन सकते है। LLB एक बैचलर डिग्री कोर्स है। इस कोर्स को आप 12 कक्षा को पास करने के बाद कर सकते है। इस कोर्स में नियम और कानून से सबंधित जानकारी प्रदान करवाया जाता है। जैसा कि हम सभी को पता है कि LLB एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है, इसे आपको कानून के बारे में सम्पूर्ण जानकारी का ज्ञात होना बहुत ही आवश्यक है। 

आपको इस कोर्स में छोटी से बड़ी हर प्रकार की जानकारी प्रदान करवाई जाती है, जिस से राज्य में कानून और शासन को कायम रखा जा सकता है। 

LLB का फुल फॉर्म :-LLB का फुल फॉर्म Bachelor of Law / Legum Baccalaureus (जो की लेटिन भाषा का शब्द है) होता है तथा हिंदी में इसका मतलब लॉ से स्तानक की डिग्री करना होता है। 

Read Also: Nursing Me Career Kaise Banaye?(नर्सिंग में करियर कैसे बनाए?)

LLB कितने साल की होती है :-

LLB को कुल दो तरीक़ों से किया जा सकता है, पहला ग्रेजुएशन के बाद किया जा सकता है।  अगर आप ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद LLB करना चाहते है तो आप 3 साल का LLB का कोर्स कर सकते है। किन्तु इसके लिए आपके ग्रेजुएशन में कम से कम 50% अंक होने अनिवार्य है। किन्तु अगर आप बाहरवीं के बाद LLB करना चाहते है तो भी आप LLB कर सकते है, जिसके साथ ही आपकी LLB करने की मियाद भी 5 साल की हो जाती है। बाहरवीं करने के बाद आपको LLB करने के लिए आपके बाहरवीं में कम से कम 50% अंक होने आवश्यक है।  

योग्यता :-

अगर आप ग्रेजुएशन के बाद LLB ज्वाइन करना चाहते है यानी 3 साल का लॉ कोर्स करना चाहते है तो आपकी उम्र 30 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए। जनरल कैटेगरी के लिए उम्र सीमा 30 साल और एससी, एसटी व ओबीसी के लिए 35 वर्ष  निश्चित होती है। वही अगर आप बाहरवीं के बाद LLB ज्वाइन करते है तो आपके लिए उम्र सीमा 20 वर्ष होती है एससी, एसटी व ओबीसी के लिए 22 वर्ष तक की सीमा निर्धारित की गई है। इसके अलावा उम्र सीमा में किसी प्रकार की छूट नहीं दी जाती है। 

Read Also: RBI क्या है ? RBI में अप्लाई कैसे करे ?

LLB इंटर्न्स एग्जाम :-

अगर कोई भी छात्र या छात्रा किसी उच्च या योग्य कॉलेज या यूनिवर्सिटी से लॉ की डिग्री को प्राप्त करना चाहता है तो उस से पहले आपको एंट्रेस एग्जाम देना होगा। फिर  एग्जाम के अंक के आधार पर आपका दाखिला लिया जाता है।यह एग्जाम all india bar council के आधार पर लिया जाता है।  यह कुछ एग्जाम निम्नलिखित अनुसार है :-

Entrance Exam :-

CLAT 

LSAT 

AILET 

LAWCET 

MHT 

अगर आपको इंडिया के टॉप कॉलेज में एडमिशन चाहिए तो आपको इन में से किसी भी एक एग्जाम को पास करना जरूरी होता है। किन्तु कुछ कॉलेज ऐसे भी होते है जो एग्जाम खुद ही कंडक्ट करते है या फिर बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी एडमिशन ले लेते है। 

LLB के अंतर्गत आने वाले कोर्स :-

LLB के अंतर्गत आने वाले कोर्स या विषयों के बारे में हम निम्नलिखित अनुसार जानेंगे, जो की हमारी पढ़ाई का एक अहम् हिस्सा है, जिस के आधार पर हम आपने भविष्य का चुनाव करेंगे :-

Family Law 

अगर हम बात करे फॅमिली लॉ की तो यह कोर्स महिलाओं के लिए अधिक उपयुक्त होता है इस लॉ के अंतर्गत शादी, तलाक, गोद लेना, पर्सनल लॉ तथा हर तरह के फॅमिली मैटर्स आते है। जैसा कि हम सभी जानते है कि प्रत्येक राज्य के हर जिलों में फैमिली कोर्ट की स्थापना की गई है जहां पर पारिवारिक मामलों को सुलझाया जाता है। 

Patent Attorney

इस लॉ के अंतर्गत अगर किसी वस्तु पर किसी व्यक्ति का सम्पूर्ण अधिकार होता है तो कोई अन्य व्यक्ति उसकी रजामंदी के बिना उस वस्तु पर अपने अधिकार का दावा नहीं कर सकता है। 

Criminal Law 

 आज शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसे क्रिमिनल लॉ की जानकारी ना हो। क्रिमिनल लॉ सबसे मुख्य लॉ होता है। यह एक अनिवार्य सब्जेक्ट है, जिसको सभी छात्रों को पढ़ना पड़ता है। इस लॉ की सहायता से ही समाज में होने वाले अपराधों को रोका जा सकता है। 

Cyber Law

जैसा कि हम सभी जानते है कि आजकल साइबर क्राइम कितना ज्यादा बढ़ गया है। इस लॉ में आपको साइबर क्राइम से संबंधित मुद्दों की जानकारी दी जाती है, जैसे साइबर क्राइम को कैसे काम किया जाए तथा इनसे कैसे डील किया जाए और उनके लिए सजा और प्रावधान किस तरह का है। 

Corporate Law 

अगर हम कॉर्पोरेट लॉ की बात करे तो इस लॉ का प्रयोग केवल कॉर्पोरेट सेक्टर में होने वाले अपराधों से निपटने के लिए और वित्त परियोजना, संयुक्त स्टॉक और टैक्स लाइसेंस से रिलेटेड कार्य करने के लिए किये जाते है। 

Banking Law

हम बैंकिंग लॉ की चर्चा करे तो इस लॉ के अंतर्गत आपको बैंक में लोन, लोन रिकवरी, बैंकिंग विशेषज्ञ आदि से रिलेटेड कार्य की जानकारी आपको दिलवाई जाती है। आपको विशेष तौर पर बैंक से संबंधित केस से सम्पूर्ण रूप से अवगत करवाया जाता है। 

Tax Law 

टैक्स लॉ के अंतर्गत आपको हर प्रकार के टेक्स जैसे- बिक्री कर (Sale Tax), सेवा कर (Service Tax), आदि से संबंधित समस्या का समाधान किया जाता है। 

LLB के बाद सैलरी:-

वकील की नौकरी सरकारी नहीं होती है। यह गवर्नमेंट के साथ किया गया एग्रीमेंट है कि हर केस की LLB की फीस के आधार पर निर्धारित होती है। हर वकील अपने केस लड़ने के लिए अलग अलग फीस लेता है। आम तौर पर फीस योग्यता और कुशलता पर आधारित होता है। सामान्य तौर पर सरकारी वकील की सैलरी 15,000 से 25,000 हो सकती है किन्तु सैलरी समय और अनुभव के आधार पर बढ़ती रहती है। 

बेस्ट लॉ कॉलेज फॉर LLB:-

जैसा की अब हम सभी जानते है कि लॉ के कितने फ़ायदे है, वही अगर लॉ बेस्ट कॉलेज या यूनिवर्सिटी से किया हो तो इसके फ़ायदे कई गुना बढ़ जाते है। हमारे इस आर्टिकल में आपके लिए बेस्ट लॉ कॉलेजेस की लिस्ट भी है, जिस से कि आपको बेस्ट लॉ कॉलेज ढूंढने में किसी भी प्रकार की दिक़्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा। बेस्ट लॉ कॉलेज लिस्ट निम्न प्रकार से है। 

Name of Law College Name of CityApproved byType 
Rajiv Gandhi National University of Law(RGNUL)Patiala, PunjabUGC NAAC BCIPublic
Chandigarh Group of Colleges, Jhanjeri(CGC)MohaliAICTE BCIPrivate
National Law University(NLU)DelhiNAAC UGC BCI Public
O.P Jindal Global University(JGU)SonepatNAAC BCI AIU UGCPrivate
Banaras Hindu University(BHU)VaranasiUGCGovernment
Amity Law University(ALS)NoidaUGC BCIPrivate
National Law school of india University(NLSIU) BangaloreBCIPublic
National Law Institute University(NLIU)BhopalUGC BCIGovernment
ILS Law College (ILSLC)PuneUGC NAAC AICTEPrivate
Gujarat National Law University(GNLU)GandhinagarNAAC BCIGovernment

यह कुछ कॉलेज है, जिसमे आप एंट्रेस एग्जाम को पास करके इन कॉलेज में एडमिशन प्राप्त कर सकते है, और आपने भविष्य को एक ऊचाई  तक पंहुचा सकते है। 

LLB के बाद क्या करे ?

LLB करने के बाद आप LLM और PHD भी कर सकते है। इसके बाद judiciary यानि न्यायपालिका का एग्जाम देकर जज बन सकते है। आजकल सरकार के द्वारा बहुत सारे पैकेज भी दिए जाते है। इस प्रकार आप Law में महारथ हासिल करने के बाद किसी बहुराष्ट्रीय कंपनी में अच्छे पैकेज पर कार्य कर सकते है। 

निष्कर्ष :-

हमे उम्मीद है कि आपको हमारे इस आर्टिकल LLB में करियर कैसे बनाए ? के माध्यम से LLB के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो गई होगी। यदि आपका सपना एक कुशल वकील बनाना है तो आप हमारे इस आर्टिकल से सहायता प्राप्त कर सकते है। हमारे आर्टिकल का उद्देश्य हमेशा यही रहता है कि आपको हर विषय से अवगत करवाना है। हमे पूरी आशा है कि आपको हमारे इस आर्टिकल से सहायता मिली होगी है, किन्तु अगर आपके मन में किसी भी तरह का प्रश्न हो हमारे इस आर्टिकल को लेकर तो आप हमे कमैंट्स के माध्यम से बता सकते है, हम आपकी सहायता करने की पूरी कोशिश करेंगे, धन्यवाद !

Leave a Comment