BSC Computer science क्या हैं? BSC Computer Science Syllabus और college List ।

BSC Computer science क्या हैं? BSC Computer Science Syllabus और college List ।

आज हम हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताएंगे कि BSC Computer science क्या हैं? BSC Computer science की खासियत क्या हैं? तथा इसका सिलेबस और कॉलेज की सूची तथा और भी बहुत सारी जानकारी आपको हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से प्राप्त होगी।

इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको BSC Computer science कोर्स से जुड़ी हर जानकारी मिल जाएगी। जैसेकि BSC Computer science क्या होता है? इसमें कैरियर कैसे बनाए। इस कोर्स को कैसे करे और कहा से करना चाहिए। BSC Computer science की फीस कितनी होती हैं। इसमें एडमिशन कैसे मिलेगा।BSC Computer science में कैरियर स्कोप क्या हैं? कोर्स को पूरा करने के बाद जॉब कैसे मिलेगी और कहा मिलेगी।इसको करने के क्या फायदे है। इन सभी के बारे में मैंने इस आर्टिकल में डिटेल में बताया है।

BSC Computer Science क्या हैं?

Computer Science को शॉर्ट में CS के नाम से भी जाना जाता है यह एक कंप्यूटर विज्ञान है जिसमे हमे कंप्यूटर और उससे जुड़ी हुई सारी जानकारी प्राप्त होती हैं। BSC Computer Science बैचलर कोर्स है। यह कोर्स 3 साल का है। इस कोर्स में एडमिशन के लिए कैंडिडेट को पिसिएम सब्जेक्ट के साथ 12वीं पास होना जरूरी हैं।

इस कोर्स को कंपलीट करने के बाद आप Computer Science में अपना करियर बना सकते हैं। यह कोर्स एक करियर ओरिएंटेड कोर्स है। इसे पूरा करके आपको बैचलर की डिग्री मिलती हैं। आप इसे रेगुलर या डिस्टेंस लरनिंग दोनों तरह से कर सकते हैं।

जो स्टूडेंट्स कंप्यूटर या टेक्नॉलाजी के छेत्र में कैरियर बनाना चाहते है उनमें यह बहुत पापुलर कोर्स है। इस लिए बहुत सी यूनिवर्सिटी में यह कोर्स आसानी से मिल जाता है।BSC Computer Science की अवधि 3 साल की होती है। जो पूरी तरह से कंप्यूटर और उसके समकालीन अनुप्रयोगों के आधार पर विश्लेषण और कार्य के लिए समर्पित है। हर स्टूडेंट कें मन में किसी कोर्स को चुनने से पहले ये सवाल जरूर होता है कि वो इस कोर्स को क्यों चुने।

अगर आपकी कंप्यूटर और कंप्यूटर से जुड़ी तकनीक में रुचि है तो आप BSC Computer Science को चुन सकते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है कि ये सिर्फ एक ही कोर्स है। आप चाहे तो इसमें इंजीनियरिंग भी कर सकते हैं। लेकिन यदि आप इंजीरियाजिंग में एडमिशन नहीं ले पा रहे हैं और आपको इसी फिल्ड में अपना करियर बनाना है तो BSC Computer Science का बेहतरीन विकल्प है।ज्यादातर कॉलेज 12वीं के नंबरों के आधार पर BSc Computer Science में एडमिशन देते हैं।

इसके लिए आपको एडमिशन फार्म भरना पड़ता है। इसके बाद कट ऑफ या मेरिट लिस्ट बनाई जाती है। अगर आपके नंबर कट ऑफ लिस्ट में आ जाते हैं तो आपका एडमिशन हो जाता है।

कुछ यूनिवर्सिटीज जैसे कि बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी प्रवेश परीक्षा लेती हैं। इसे BHU CET कहा जाता है। सेंट्रल यूनिवर्सिटीज के लिए CUCET नाम का कंबाइंड एग्जाम लिया जाता है।

Read Also: Bsc kya hai? BSC का Syllabus और College List ।

BSC Computer Science करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए।

BSc Computer Science तीन साल का डिग्री कोर्स है।

इसके लिए आपको PCM विषयों से बारहवीं पास होना चाहिए।

बारहवीं में कम से कम 45% मार्क्स होने चाहिए।

BSc Computer Science में एडमिशन बारहवीं के नंबरों के आधार पर होता है।अगर कोई विद्यार्थी बीएससी कंप्यूटर साइंस करना चाहता है तो सबसे पहले उसकी किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए।अगर कोई विद्यार्थी दसवीं कक्षा पास है और उसने किसी टेक्निकल फील्ड में 3 साल का डिप्लोमा किया है तब भी वह बीएससी कंप्यूटर साइंस मे एडमिशन ले सकता है।

इससे आपको बीएससी कंप्यूटर साइंस के सीधा दूसरे साल में एडमिशन मिल जाएगा। भारत में ज्यादातर सभी कॉलेज आपको बीएससी कंप्यूटर साइंस करवाते हैं। ज्यादातर यूनिवर्सिटी और कॉलेज में बीएससी कंप्यूटर साइंस के लिए आपका एडमिशन मेरिट बेस पर होता है। हर साल कॉलेज cut off लिस्ट जारी करते हैं। जो विद्यार्थी cut off को पूरा करते हैं उन्हें  कॉलेज में एडमिशन मिल जाता है।BSC Computer Science में हम अपना कैरियर बना सकते हैं।

बीएससी कंप्यूटर साइंस की फीस निर्भर करती है कि आप सरकारी कॉलेज या फिर प्राइवेट कॉलेज से पढ़ाई कर रहे हैं। सरकारी कॉलेज में बीएससी कंप्यूटर साइंस करने की फीस कम होती है। अगर हम प्राइवेट कॉलेज की बात करें तो इसमें आपको काफी खर्चा आ जाएगा।

सरकारी कॉलेजेस में बीएससी कंप्यूटर साइंस की फीस 15 से 30 हजार तक सालाना हो सकती है। इसी तरह आप की 3 साल की फीस 1 लाख तक हो सकती है।

आप की शुरुआती सैलरी यह आपकी कंपनी पर निर्भर करती है और साथ ही आपके अनुभव पर निर्भर करती है कि आपके पास कितने साल का काम का अनुभव है। अगर लगभग बात करें तो आपकी शुरुआती सैलरी 3 लाख से 7 लाख तक साल की हो सकती है। जैसे-जैसे आपका काम का अनुभव बढ़ता जाएगा वैसे ही आपकी सैलरी भी बढ़ती जाएगी।

Read Also: B Pharma क्या है? B Pharma का syllabus और college List |

BSc computer Science Syllabus.

Fundamentals of Computer Organization & Embedded Systems
Introduction to Database Management Systems
Introduction to programming using Python
Advanced Programming using Python
Discrete Mathematics
Computer Graphics
C++  Programming
Java Programming
Database Management Systems
Software Engineering

BSC Computer science College List ।

Read Also: B.Voc Animation Course, Eligibility, Syllabus, Career In Hindi

निष्कर्ष –

आज इस आर्टिकल में हमने BSc Computer Science करने के फायदे के बारे में जानना है। इस आर्टिकल में मैंने आपको BSC Computer Science करने के बाद क्या क्या अवसर प्राप्त हो तो उन सब की जानकारी दी है। मुझे उम्मीद है कि आप सभी को इस आर्टिकल को पढ़कर आपको BSC Computer Science के सबंधित सारी जानकारी मिल गई हो गई । आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *